एक्सिस ने गुरुवार को बताया कि, अमेरिका राज्य सचिव माइक पोम्पेओ ने वाशिंगटन पोस्ट पत्रकार जमाल खशोगी के गायब होने की जांच को खत्म करने के लिए सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस को 72 घंटे दिए.

एक्सिस के मुताबिक, पोम्पेओ ने क्राउन प्रिंस से कहा कि खशोगी के लापता होने में प्रकाश डालने की जांच खत्म करने के लिए 72 घंटे का समय है और पता चला कि अगर सऊदी के खिलाफ यह सभी आरोप सही होते है तो सऊदी को इसकी भारी कीमत चुकानी होगी.

तुर्की मीडिया के मुताबिक, मंगलवार को खशोगी मामले के बारे में जवाब मांगने के लिए पोम्पेओ ने सऊदी किंग सलमान और प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान से मुलाकात की.

रिपोर्ट में कहा गया था कि दोनों कैमरों के सामने मुस्कुरा रहे थे, लेकिन बैठक में एक और गंभीर स्वर था क्योंकि पोम्पेो ने सऊदी को कड़े लफ़्ज़ों में चेतावनी दी थी की सऊदी खशोगी मामले की सही जांच करें.

रियाद में बैठक के कुछ ही समय बाद, पोम्पे अंकारा पहुंचे और खशोगी के साथ-साथ अन्य विषयों के बारे में तुर्की के राष्ट्रपति रजब तय्यब एर्दोगान और विदेश मंत्री मेवलुट कवसुओल्लू के साथ बातचीत की.