सऊदी पत्रकार जमाल खशोगी के जनाज़े की नमाज़ दुनियाभर के कई देशों में अदा की गयी. हज़ारो लोगों ने इस्तांबुल, मदीना, मक्का और दुनिया भर के अन्य शहरों में सऊदी पत्रकार जमाल खशोगगी के लिए शुक्रवार को नमाज़ अदा की.

तुर्की मीडिया के मुताबिक, मक्का के ग्रैंड मस्जिद में हजारों ज़ायेरीनों और खशोगी के गृह नगर मदीना में पैगंबर साहब की मस्जिद में नमाज़ पढने के इकठ्ठा हुए.

तुर्की में, शोकियों ने फतेह मस्जिद के बाहर नमाज़ अदा की. एक इमाम ने बारिश के खिलाफ सुरक्षा के लिए स्थापित एक तम्बू के नीचे कुरान की आयतों की तिलावत की और खशोगगी के दोस्तों ने भी इबादत की.

इसी के साथ इंडोनेशिया में, 600 से अधिक लोगों ने जकार्ता के अबू बकर एश शिद्दीक मस्जिद में पत्रकार के लिए अनुपस्थिति में नमाज़-ए-जनाज़ा पढ़ा.

मानवतावादी राहत संगठन के हिस्से के रूप में इंडोनेशिया की यात्रा पर एक सऊदी इमाम शेख यूसुफ अब्दुल गनी ने नमाज़ पढ़ाई.  अब्दुल गनी ने कहा, “हम शहीद जमाल खशोगी के लिए दुआ करेंगे की अल्लाह उनकी मगफिरत करें. उन्होंने कहा, “अल्लाह खशोगी के सभी गुनाहों को माफ़ अता फरमाए और खशोगी के हत्यारों को इसकी सज़ा मिले