कोरोना वायरस काल दुनिया भर में दवाइयों की खपत को एकदम सातवें आसमान पर ले गया है. दुनिया भर में दवाओं का प्रयोग बेहद तेज़ी से बढ़ा है. ऐसे में बड़ी तादाद में दवाइयों का उत्पादन भी बढ़ा है और इसी अनुपात में ख़’राब हो चुकी दवाइयों की तादाद में भी इजाफा हुआ है.

संयुक्त अरब अमीरात में स्वास्थ्य सुविधा और फार्मेसियों ने अं’तिम तिथि तक प्रयोग न हुई दवाओं को चिकित्सा अप’शिष्ट के रूप में प्रयोग किए जाने को लेकर एक फैसला किया है. स्वास्थ्य और रोकथाम मंत्रालय की नई ई-सेवा के माध्यम से ख़राब हो चुकी दवाइयों का निप’टारा करने की दिशा में एक अनोखी शुरूआत की गई है. इस नई पहल के तहत स्वास्थ्य और दवा संस्थानों के मालिक और कर्मचारी आसानी से https://smartforms.moh.gov.ae/DDS सरकारी वेबसाइट पर मेडिकल वेस्ट डिस्पोजल के लिए फॉर्म भर सकते हैं.

यह सुविधा किसी भी व्यक्ति के पास उपलब्ध हो सकती है, बस इसके लिए इन्टरनेट कनेक्शन के साथ स्मार्टफोन होना जरूरी है.  यह प्लेटफ़ॉर्म फर्मों को रिकॉर्ड और दस्तावेजों को सेव रखने के बारे में भी कई तरह की सुविधायें से युक्त है. नई स्मार्टफोन सेवा यह सुनिश्चित करती है कि बायो’वेस्ट को सुरक्षित और पर्यावरण के अनुकूल तरीके से संभाला जाए.